मलिहाबाद के फुल्लौर गांव स्थित बाग में बुधवार को एक प्रेमी युगल का शव फंदे से लटका मिला। स्थानीय लोगों ने ऑनर किलिंग की आशंका जताई है। हालांकि पुलिस आत्महत्या करने की आशंका जता रही है। एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक शवों का पोस्टमॉर्टम कराया गया है। पुलिस के मुताबिक शवों की शिनाख्त माल थाना क्षेत्र के सहिजना निबारी गांव निवासी छोटेलाल के बेटे रंजीत उर्फ सत्यपाल (19) और परशुराम की बेटी रजनी (18) के रूप में हुई है।

दोनों के शव गांव से करीब एक किलोमीटर दूर ज्ञानेंद्र सिंह की बाग में एक ही रस्सी के सहारे लटकते मिले थे। छानबीन में पता चला है कि रंजीत और रजनी का आपस में लंबे समय से प्रेम संबंध था। दोनों का घर एक-दूसरे के सामने है और वह शादी करना चाहते थे। हालांकि परिवारीजन इस रिश्ते से खुश नहीं थे। रजनी की शादी हरदोई के एक युवक से घरवालों ने तय कर दी थी और 30 मई को उसकी शादी होने वाली थी। 

 

 

बुधवार सुबह घर से निकली थी रजनी

परिवारीजन ने बताया कि बुधवार सुबह रजनी घर से शौच के बहाने निकली थी। काफी देर तक जब वह घर नहीं लौटी तो घरवाले और ग्रामीण आसपास रजनी की तलाश करने लगे। इस दौरान दोनों के शव फुल्लौर गांव के एक बाग में प्लास्टिक की रस्सी के सहारे लटके मिले। 

 

परिवार में मचा कोहराम 

रजनी और रंजीत का शव मिलने की जानकारी से बड़ी संख्या में ग्रामीण और दोनों के घरवाले मौके पर पहुंचे। जानकारी पाकर मलिहाबाद और माल थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई और दोनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

 

चर्चा का बाजार गर्म 

शव मिलने के बाद कुछ लोगों ने दोनों की हत्या किए जाने की आशंका भी जताई है। हालांकि पुलिस को मौके से कोई साक्ष्य नहीं मिला हैं। पुलिस का कहना है कि शवों के पास से कोई सुसाइड नोट भी नहीं बरामद हुआ है। इंस्पेक्टर मलिहाबाद सियाराम वर्मा ने बताया कि मामले की गहनता से कई पहलुओं पर छानबीन की जा रही है।