लोकसभा चुनाव के छठे चरण का चुनाव प्रचार शुक्रवार 10 मई की शाम 5 बजे थम जाएगा। छठे चरण में उत्तर प्रदेश की 14 लोस सीटें हैं-सुलतानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अम्बेडकरनगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीरनगर, लालगंज सुरक्षित, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर सु. और भदोही।

शुक्रवार 10 मई को प्रचार थमने के साथ ही प्रदेश की इन 14 सीटों पर मतदान की तैयारी शुरू हो जाएगी। 12 मई को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक मतदान होना है। इसके लिए 11 मई को इन सभी 14 सीटों से संबंधित मतदान केन्द्रों पर पोलिंग पार्टियां और सुरक्षा बलों के दस्ते रवाना हो जाएंगे। 

 

अवध और पूर्वांचल की इन 14 सीटों में से कई सीटों पर काफी  दिलचस्प मुकाबला है। कई सियासी दिग्गजों की किस्मत का फैसला इस छठे चरण में होना है। इनमें सुलतानपुर सीट पर भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी हैं तो उनके मुकाबले में कांग्रेस से डा.संजय सिंह और बसपा से चन्द्र भद्र सिंह  सोनू हैं।

प्रतापगढ़ सीट पर कांग्रेस से राजकुमारी रत्ना सिंह हैं तो बसपा से अशोक त्रिपाठी और भाजपा से संगम लाल गुप्ता। इलाहाबाद सीट से प्रदेश सरकार की काबीना मंत्री रीता बहुगुणा जोशी भाजपा की उम्मीदवार हैं तो कांग्रेस से यहां योगेश शुक्ला और सपा से राजेन्द्र सिंह पटेल मैदान में हैं।
श्रावस्ती लोस सीट से भाजपा के दद्दन मिश्र हैं तो कांग्रेस से धीरेन्द्र प्रताप सिंह उम्मीदवार हैं और बसपा से राम शिरोमणि मुकाबिल हैं। सिद्धार्थनगर लोस सीट से भाजपा के जगदम्बिका पाल हैं तो उनके मुकाबले में बसपा से आफताब आलम तो कांग्रेस से चंद्रेश कुमार उपाध्याय मैदान में हैं। संतकबीरनगर सीट पर भाजपा से प्रवीण कुमार निषाद हैं तो कांग्रेस से भालचंद यादव और बसपा से भीष्म शंकर हैं। इस छठे चरण में एक अहम मुकाबला आजमगढ़ सीट पर भी है जहां सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव हैं तो भाजपा ने इस सीट पर भोजपुरी फिल्मों के अभिनेता दिनेश लाल यादव निरहुआ को मैदान में उतारा है। 

हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है |