लोकसभा चुनाव होने के बाद केन्द्रीय चुनाव आयोग ने आदर्श चुनाव आचार संहिता हटा ली है। चुनाव आयोग के सचिव अजोय कुमार की ओर से इस बाबत रविवार को सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र जारी किया गया है।

इस पत्र में कहा गया है कि लोकसभा चुनाव के साथ आन्ध्र प्रदेश, अरूणाचल प्रदेश, उड़ीसा और सिक्किम राज्यों की विधान सभाओं के चुनाव तथा कुछ उप चुनावों को लेकर आयोग द्वारा लगायी गयी आचार संहिता अब खत्म हो गई है। 

आचार संहिता हटने के साथ ही अब एक बार फिर से प्रदेश सरकार हरकत में आएगी और विकास कार्य शुरू हो सकेंगे। इसके साथ ही प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक भी हो सकेगी। प्रदेश सरकार के मंत्री जिलों में विकास कार्यों का जायजा लेने भ्रमण पर भी जा सकेंगे। 

बतातें चले कि बीती 10 मार्च को लोकसभा चुनाव का विस्तृत कार्यक्रम जारी करने के साथ ही केन्द्रीय चुनाव आयोग ने पूरे देश में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू कर दी थी। 

आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद अब प्रदेश के किसी भी जिले में प्रदेश सरकार या अन्य राजनीतिक दलों द्वारा अपने कार्यक्रमों व योजनाओं के प्रचार पर रोक लगा दी गयी थी। 

इसके साथ ही  प्रदेश सरकार के मंत्रियों पर  विशेष व आपात परिस्थतियों को छोड़कर किसी भी प्रशासनिक व सरकारी कार्यक्रम से जिलों का दौरा करने पर भी रोक लगा दी गयी थी। 

 

हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है