शपथग्रहण से पहले भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (BJP President Amit Shah) ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने नई सरकार के गठन की बारीकियों पर चर्चा की। नई सरकार 30 मई को शपथ ग्रहण करेगी।

भाजपा में एक तबके का मानना है कि अभूतपूर्व बहुमत से सत्ता में पार्टी की वापसी कराने में अहम भूमिका निभाने के बाद शाह सरकार में मंत्री पद संभाल सकते हैं। हालांकि, शाह ने इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। 

मोदी-शाह की मुलाकात में इस बात पर भी चर्चा हुई होगी कि किन नेताओं को मंत्री बनाना है और किन्हें किस मंत्रालय का प्रभार सौंपना है। सूत्रों ने बताया कि मंत्रिपरिषद में पश्चिम बंगाल एवं तेलंगाना जैसे राज्यों में चुने गए सांसदों को मंत्री पद दिया जा सकता है। पिछली सरकार के प्रमुख सदस्यों को बरकरार रखा जाएगा।

वहीं, शपथग्रहण समारोह में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शामिल होंगी। ममता ने कहा, समारोह के लिए मंगलवार को न्योता आया है। मैं संवैधानिक शिष्टाचार के नाते इसमें शिरकत करूंगी।

 

हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है