Railway Recruitment 2019: भारतीय रेलवे में नौकरी तलाश रहे युवाओं के खुशखबरी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ऐलान किया है कि रेलवे में और 9000 से ज्यादा भर्तियां निकलने वाली हैं। इन खाली पदों में 50 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक ये भर्तियां रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के तहत कांस्टेबल और सब-इंस्पेक्टर के पद पर निकाली जाएंगी। 

आपको बता दें कि पिछले साल (फरवरी-मार्च, 2018) रेलवे में 1,40,000 भर्तियां निकली थीं। इस वर्ष (फरवरी-मार्च, 2019) रेलवे में और 1.42 लाख नई नौकरियां निकाली गईं। यही नहीं आने वाले 2 वर्षों में और 1 लाख भर्तियां निकाले जाने की योजना है। 

23 जनवरी, 2019 को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने घोषणा की थी कि रेलवे में और 2.50 लाख नौकरियां निकलेंगी। रेल मंत्री ने कहा था- 'अभी 1.50 लाख भर्तियों की परीक्षा प्रक्रिया चल रही है, सवा दो लाख से ढाई लाख और भर्तियां निकलेंगी। इस हिसाब से रेलवे करीब 4 लाख नौकरियां दे रहा है।'

2018, 2019 में कब-कब कितनी-कितनी भर्तियां

2019 की रेलवे भर्तियां-  2019 में रेलवे में निकली 1,42,648 भर्तियों के लिए आवेदन जारी हैं। 
- रेलवे ग्रुप डी ( RRC Group D ) की 1,03,769 भर्तियों के लिए आवेदन जारी हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 12 अप्रैल, 2019 है।
- RRB NTPC 35,277 वैकेंसी के लिए आवेदन जारी हैं। 
- RRB Ministerial की 1665 वैकेंसी के लिए आवेदन जारी हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 7 अप्रैल (11:59 pm) है। आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2019 है। 
- RRB मेडिकल स्टाफ की 1937 भर्तियों के लिए आवेदन जारी हैं। ऑनलाइन आवेदन 2 अप्रैल तक किया जा सकता है।

------------  

2019-2020 की योजना 
- अगले दो वर्षों में निकलेंगी शेष 90 हजार से लेकर 1 लाख तक भर्तियां
---------------- 
2018 की रेलवे भर्तियां
फरवरी-मार्च, 2018 में निकली थी 1 लाख 40 हजार भर्तियां
पिछले साल निकली आरआरबी ग्रुप डी (63000 वैकेंसी), आरआरबी असिस्टेंट लोको पायलट व टेक्नीशियन (66000 वैकेंसी) के पदों पर करीब 1 लाख 30 हजार भर्तियां निकलीं थी। इसके अलावा रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) में भी कांस्टेबल व सब इंस्पेक्टर के पदों पर करीब 10 हजार भर्तियां निकली थीं। यानी पिछले साल करीब 1 लाख 40 हजार भर्तियां निकलीं। इन भर्तियों की पहले स्टेज की परीक्षा के नतीजे आ चुके हैं। दूसरे स्टेज की परीक्षाओं की प्रक्रिया जारी है। बताया जा रहा है कि दो से तीन महीनों में यह भी पूरी हो सकती है।