प्रतीकात्मक फोटो

देश के सभी उच्च शिक्षा संस्थानों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के Facebook, Twitter और instagram सहित सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स को HRD से लिंक किया जाए. मंत्रालय ने इसके पीछे बताई ये वजह

 

देश के सभी उच्च शिक्षा संस्थानों में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के Facebook, Twitter और instagram सहित सभी सोशल मीडिया अकाउंट्स को HRD से लिंक किया जाएगा. मंत्रालय ने इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं.

डिपार्टमेंट ऑफ हायर एजुकेशन के सेक्रेटरी आर सुब्रह्मण्यम ने सोमवार को इस मुद्दे में कहा है कि इसके पीछे छात्रों को सर्विलांस में रखने जैसी कोई गलत मंशा नहीं है. ये सिर्फ सभी एकेडमिक संस्थानों को एक दूसरे से जोड़ने के लिए है जहां पर वो अपनी सफलताएं साझा करके एक दूसरे के साथ भी साझा कर सकें.

बता दें कि हाल ही में सभी यूनिवर्सिटीज को इस बारे में पत्र भेजा गया था. टेलीग्राफ अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक सरकार की इस पहल को लेकर कुछ शिक्षाविदों ने चिंता जताई है. उन्होंने डर जताया है कि कहीं छात्र छात्राओं के सोशल मीडिया अकाउंट से ली गई जानकारी का गलत इस्तेमाल करके उनकी विचारधारा जानकर भविष्य में फैकल्टी इंटरव्यू के समय उनकी छंटनी की जाए.

रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि सभी उच्च शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों को आदेश दिया गया है कि वे सुनिश्चित करें कि सभी स्टूडेंट्स के सभी स्टूडेंट के सोशल मीडिया एकाउंट कनेक्ट हों. अखबार का दावा है कि सरकार की इस कवायद से देश भर की 900 यूनिवर्सिटी और 40 हजार कॉलेजों को कवर किया जाएगा. इसमें तीन करोड़ के करीब स्टूडेंट के सोशल मीडिया अकाउंट शामिल होंगे.

हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है