छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हर फ्लाइट में लगभग 65 मिनट की देरी देखी गई. बाहर की 76 फीसदी तक उड़ानें बारिश के कारण प्रभावित हुई हैं.

 

मुंबई में भारी बारिश जारी है. भारी बारिश का असर मुंबई के एयरपोर्ट भी दिखा जहां 20 उड़ानें रद्द कर दी गईं और 280 उड़ानों में देरी हुई. बुधवार रात 11.30 बजे तक मुंबई एयरपोर्ट पर 24 विमान फंसे रहे. काफी कोशिश के बाद 10.30 और 11.10 के बीच मात्र 5 विमान अपने गंतव्य के लिए उड़ान भर सके.

मुंबई आने वाली कुछ उड़ानों को मौसम सही नहीं होने तक रोका गया है. भारी बारिश के कारण एयरपोर्ट का पूरा ऑपरेशन प्रभावित हुआ है, इसलिए इसे दुरुस्त होने में कुछ वक्त लग सकता है. मुंबई एयरपोर्ट पर हर दिन तकरीबन 1 हजार अराइवल और डिपार्चर होते हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हर फ्लाइट में लगभग 65 मिनट की देरी देखी गई. बाहर की 76 फीसदी तक उड़ानें बारिश के कारण प्रभावित हुई हैं. मुंबई आने वाली 44 फीसदी फ्लाइट में औसतन 8 मिनट की देरी दर्ज की गई है. इन सब को मिलाकर लगभग 280 उड़ानों में देरी सामने आई है.

बता दें, भारी बारिश की वजह से मुंबई और पूरे तटीय कोंकण के इलाके जलभराव की चपेट में आ गए हैं. मौसम विभाग के मुताबिक मुंबई में औसतन 15 सेंटीमीटर की बारिश दर्ज की गई है, जबकि थाने और पालघर में लगभग 18 सेंटीमीटर और 17 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई. मुंबई के कई निचले इलाकों में 6-12 इंच तक पानी भर गया है.

बारिश के कारण यहां लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. बिगड़े हालात के मद्देनजर अब कई जगहों पर गुरुवार को स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे. मुंबई, थाने और कोंकण में स्कूलों की छुट्टी का ऐलान किया गया है. वहीं महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में स्थानीय हालात को देखते हुए जिला कलेक्टर बारिश के लिए एहतियाती कदम उठा सकते हैं. मुंबई में तेज बारिश की चेतावनी देते हुए मौसम विभाग ने जरूरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकलने की सलाह दी है.