जम्‍मू-कश्मीर में शांति भंग करने के लिए पाकिस्तानी सेना हर नापाक प्रयास कर रही है। हालांकि, भारतीय‌ सेना की सतर्कता के चलते ये आतंकी एलओसी पार नहीं कर पा रहे हैं। सोपोर में लश्कर-ए-तैयबा आतंकी संगठन के आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल (National Security Advisor Ajit Doval) ने शानिवार को खुलासा किया कि 230 पाकिस्‍तानी आ‍तंकियों की पहचान हुई है, जो भारत में घुसपैठ की फिराक में हैं। हाल ही में खबर आई थी कि पाकिस्तानी सेना की सरपरस्ती में 100 से भी ज्यादा अफगानी और पश्तून आतंकी एलओसी पार करने की फिराक में है, लेकिन भारतीय‌ सेना की सतर्कता के चलते ये आतंकी एलओसी पार नहीं कर पा रहे हैं।

पोस्‍टर लगाकर नागरिकों को धमकाया
बताया जा रहा है कि सोपोर पुलिस ने कल, 8 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया, जो पोस्टर प्रकाशित करके स्थानीय लोगों को धमकाने और डराने में शामिल थे। पुलिस इन लोगों से अब पूछताछ कर रही है। सूत्र ने बताया कि सोपोर पुलिस इलाके में नागरिकों की हाल ही में की गई हत्या के मामले में भी इन आतंकवादियों से पूछताछ कर रही है। पुलिस ने पोस्टर के ड्राफ्टिंग और प्रकाशन में उपयोग किए जाने वाले कंप्यूटर और अन्य सामान भी बरामद किए हैं।

 

ये आतंकी हुए हैं गिरफ्तार
सूत्रों की मानें तो मामले में अधिकारियों द्वारा की गई गहन जांच के अनुसार, यह पता चला है कि आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े आठ आतंकवादियों के सहयोगियों में से तीन अपराध को अंजाम देने के प्रमुख आरोपी थे। सभी गुप्त सामग्रियों को पुलिस ने जब्त कर लिया है। गिरफ्तार आठ आतंकवादियों में एजाज मीर, उमर मीर, तौसीफ नाजर, इम्तियाज नाजर, उमर अकबर, फैजान लतीफ, दानिश हबीब और शोकात अहमद मीर शामिल थे। उन्होंने पोस्टर तैयार किया और उन्हें इलाके में लगाया था।



►  हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है