जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और वहां पाबंदी लगाए जाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कई याचिका लगाई गई हैं, जिन पर सुनवाई चल रही है. सोमवार को कश्मीर मामले को लेकर दाखिल 8 पीआईएल पर सुनवाई होगी

 

  • 370 हटाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दायर की गई हैं कई याचिकाएं
  • गुलाम नबी आजाद, सीताराम येचुरी और वाइको ने भी लगाई है याचिका

 

सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को कश्मीर मामले को लेकर लगाई गई याचिकाओं पर अहम सुनवाई होगी. इस दौरान कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद, सीताराम येचुरी और वाइको समेत 8 पीआईएल पर फैसला आने की उम्मीद है. सुप्रीम कोर्ट कश्मीर घाटी में पाबंदी पर भी निर्णय सुना सकता है.

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और वहां पाबंदी लगाए जाने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कई याचिका लगाई गई हैं, जिन पर सुनवाई चल रही है. सोमवार को कश्मीर मामले को लेकर दाखिल 8 पीआईएल पर सुनवाई होना है. इस दौरान शीर्ष अदालत का फैसला आ सकता है.

कांग्रेस नेता और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने जम्मू कश्मीर पुनर्गठन की अधिसूचना और वहां लगाई गई पाबंदियों के खिलाफ याचिका दायर की है, जिस पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होना है. कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने यह याचिका शनिवार को दाखिल की थी.

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े और जस्टिस सैयद अब्दुल नजीर की तीन सदस्यीय विशेष पीठ के सामने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35A को खत्म करने के आदेश और उसके बाद वहां लगाई गई पाबंदियों को चुनौती देने वाली कई याचिकाएं पहले से ही सुनवाई के लिए तय हैं.

तहसीन पूनावाला, पत्रकार अनुराधा भसीन, शहला रशीद, सीताराम येचुरी, वाइको और गुलाम नबी आजाद सहित कई याचिकाओं की सुनवाई बारी-बारी से होगी.




►  हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है