• जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही सीमा पार से घुसपैठ की आशंका बनी हुई है. जिसके चलते सीमा पर सुरक्षा बल अलर्ट हैं.

 

  • सीमा पर पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है
  • बुधवार को अखनूर सेक्टर से बीएसएफ ने घुसपैठिए को पकड़ा

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाने से बौखलाए पाकिस्तान ने पीओके (PoK) में नियंत्रण रेखा (LoC) के पास 4 अक्टूबर को मार्च करने की योजना बनाई है. इस मार्च में पाकिस्तान स्थानीय लोगों को शामिल करने की तैयारी में है.

ऐसा कर पाकिस्तान घाटी में अशांति फैलाना चाहता है. भारतीय सेना के शीर्ष सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है. हालांकि, भारतीय सेना भी पाकिस्तानी सेना के कार्यक्रम को नाकाम करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

दरअसल, अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही सीमा पार से घुसपैठ की आशंका बनी हुई है. जिसके चलते सीमा पर सुरक्षा बल भी अलर्ट हैं. सुरक्षा एजेंसिंयों के मुताबिक पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है. सीजफायर की आड़ में पाकिस्तान से आतंकी भी घुसपैठ की वारदात को अंजाम दे रहे हैं.

बुधवार को जम्मू कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने एक घुसपैठिए को पकड़ा गया. सुरक्षा बलों ने उसे अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास उस वक्त पकड़ा जब वो भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश कर रहा था. अखनूर सेक्टर से बीएसएफ ने इस घुसपैठिए को पकड़ा. फिलहाल उससे पूछताछ जारी है.

दिल्ली में घुसे 3-4 आतंकी

इधर, राजधानी दिल्ली में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के 3 से 4 आतंकी घुसे हैं. सुरक्षा एजेंसियों को इनपुट मिला है कि त्योहार के मौसम में आतंकी बड़ा हमला कर सकते हैं. इस अलर्ट के बाद दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. माना जा रहा है कि आतंकी जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के विरोध में हैं. ऐसे में आतंकी देश में किसी बड़े हमले को अंजाम दे सकते हैं. दिल्ली में आतंकी घुसने के इनपुट के बाद दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है..




►  हिंदी समाचार के लिए आप हमे फेसबुक पर भी ज्वाइन कर सकते है