यात्री सेवा प्रणाली में खराबी के कारण सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया की उड़ानें शनिवार सुबह करीब छह घंटे तक ठप रहीं, जिससे इस दौरान एयर इंडिया की उड़ान पकड़ने के लिए गये यात्री जहां के तहां हवाई अड्डों पर फंसे रहे।

एयरलाइन को यात्री सेवा प्रणाली मुहैया कराने वाली अमेरिकी कंपनी 'सीता' के सॉफ्टवेयर में खराबी की वजह से उसका सर्वर डाउन रहा जिससे यह समस्या आयी। इस कारण आज रात तक उड़ानों में देरी की आशंका है। कुल 155 उड़ानों में औसतन दो घंटे की देरी की संभावना है, 18 घरेलू उड़ानों का समय बदला गया है और कुछ उड़ानों को रद्द भी करना पड़ सकता है। 

एयर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अश्विनी लोहानी ने बताया कि भारतीय समयानुसार तड़के 3.30 से 4.30 तक सीता का सर्वर नियमित रखरखाव के लिए बंद किया गया था। इस दौरान उड़ानें नहीं होती हैं। लेकिन, सर्वर को दोबारा चालू करने पर उसमें सॉफ्टवेयर की कुछ खराबी आ गयी। अमेरिका अटलांटा में 'सीता' के अभियंताओं की टीम लगातार कोशिश करती रही और सुबह 8.45 बजे यात्री सेवा प्रणाली दुरुस्त की जा सकी। 

इस खराबी के कारण चेकइन और बैगेज प्रणाली के साथ ही आरक्षण भी बाधित रहा। एयर इंडिया और उसकी सहयोगी कंपनी एयर इंडिया एक्सप्रेस की सभी उड़ानें सुबह 10 बजे तक बाधित रहीं। इस दौरान लोहानी समेत एयरलाइन के सभी वरिष्ठ अधिकारी स्वयं हवाई अड्डों पर पहुंच कर स्थिति पर नजर बनाये हुये थे।