सत्येंद्र विश्वकर्मा, संवाददाता 
  • एसपी ने किया पदभार ग्रहण

गाजीपुर । कासगंज से स्थानांतरित होकर गाजीपुर पहुंचे आईपीएस रोहन पी बोत्रे ने आज गाजीपुर पुलिस अधीक्षक का पदभार ग्रहण किया। इस दौरान उन्होंने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि मेरी पहली प्राथमिकता महिला उत्पीड़न के खिलाफ होगी। गैंगस्टर के खिलाफ अभियान चलाकर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। पुलिस लाइन सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि जिले में पुलिस की स्वच्छ छवि प्रस्तुत करना भी मेरी प्राथमिकता में शामिल है। रोहन पी बोत्रे के कार्यभार ग्रहण के दौरान गाज़ीपुर के एसपी सिटी और एसपी ग्रामीण भी मौजूद रहे कार्यभार ग्रहण करने के उपरांत नवागत पुलिस अधीक्षक ने जनपद के पुलिस अफसरों और थानेदारों के साथ मीटिंग करते हुए कानून व्यवस्था बरकरार रखने और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का निर्देश मातहतों को दिया।पुलिस रिकार्ड के अनुसार आईपीएस रोहन प्रमोद बोत्रे 2016 बैच के आईपीएस ऑफिसर हैं और महाराष्ट्र के रहने वाले है। रोहन के माता-पिता प्रोफेसर हैं। रोहन प्रमोद बोत्रे ने पुणे यूनिवर्सिटी से 
बैचलर इन इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। इसके बाद वो अमेरिका चल गए और वहां पर्ड्यू यूनिवर्सिटी से मास्टर्स ऑफ साइंस (एमएस) सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। अमेरिका में सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद रोहन प्रमोद बोत्रे अमेरिका से वापस स्वदेश (भारत) लौटे और सिविल सेवा की तैयारी शुरू की। अपने चौथे प्रयास में रोहन की सिविल सेवा में 187वां रैक मिला और उन्होंने खाकी वर्दी चुनी। पुलिस विभाग  में भर्ती होने के बाद 2017 में इन्होंने अलीगढ़ में ज्वाइन करते हुए ट्रेनिंग हासिल की। इसके बाद गोरखपुर में एएसपी पद पर तैनात रहे। इसके बाद आगरा के एसपी सिटी के पद पर 21 महीने कार्यरत रहे। पहली बार बतौर 
पुलिस अधीक्षक कासगंज में इन्हें तैनाती मिली जिसका कार्यकाल 1 साल का रहा। गाजीपुर में इनको पुलिस अधीक्षक के रूप में दूसरी तैनाती दी गई है।